अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने से पहले जिला प्रशासन अलर्ट

हाथरस।


अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने से पहले जिला प्रशासन अलर्ट हो गया है। पुलिस अधीक्षक और जिलाधिकारी ने जिले के समस्त थाना अध्यक्षों को सजग और सतर्क रहते हुए असामाजिक तत्वों पर नजर बनाए रखने के दिए निर्देश।
आपको बता दे आगामी 17 नवम्बर को अयोध्या राम मंदिर पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला आना है। जिसको लेकर हाथरस जिलाधिकारी प्रवीण कुमार लक्षकार और पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ शंकर मीणा ने जिले के समस्त थाना अध्यक्षों के साथ मीटिंग कर अपने-अपने थाना क्षेत्रो में फैसले के दिन सतर्क रहने के निर्देश दिए है। इसी के तहत जिलाधिकारी हाथरस प्रवीण कुमार लक्षकार, पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ शंकर मीणा, अपर पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ वर्मा ने जिले के समस्त आलाधिकारियों ने राम मंदिर अयोध्या फैसले को लेकर शहर में शांति व्यवस्था बनाये रखने के लिए शहर के थाना सदर कोतवाली में पीस पार्टी की मीटिंग का आयोजन किया गया।
पीस पार्टी की मीटिंग में आये हिन्दू मुस्लिम समाज के लोगो के साथ वार्ता करते हुये हाथरस पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ शंकर मीणा ने हिन्दू मुस्लिम आबादी वाले इलाको में शरारती तत्वों और बवालियों की हरकतों पर नजर रखते हुये समय से थाना पुलिस को सुचना दिए जाने के लिए कहा गया है जिससे किसी भी घटना से निपटा जा सके। राम मंदिर पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने के बाद किसी भी तरह का जुलुस और विरोध प्रदर्शन को रोकने के लिए और शहर में शांति व्यवस्था को बनाये रखने के लिए धारा 144 को भी लागु किया गया है।


Popular posts from this blog

भारत विदेश नीति के कारण वैश्विक शक्ति बनेगा।

बांसडीह में जाति प्रमाण पत्र बनाने को लेकर दर्जनों लोगों ने एसडीएम को सौपा ज्ञापन

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन