भूजल स्तर की रियल टाइम मानटरिंग करने का फैसला

लखनऊ।


प्रदेश में भूजल स्तर नापने के क्षेत्र में भूगर्भ जल विभाग अनूठी पहल करते हुए विभागीय पीजोमीटर को डिजिटल वाटर लेवल रिकार्डर से जोड़ने का निर्णय लिया है।
भूगर्भ जल विभाग से प्राप्त जानकारी के अनुसार विश्व बैंक परियोजना के तहत इन पीजोमीटरों की क्षमता बढा़ना है। इन चयनित पीजोमीटर पर डिजिटल वाटर लेवल रिकार्डर स्थापित किये जा रहे है। इन डिजिटल वाटर लेवल रिकार्डर से टेलीमेट्री के माध्यम से प्रत्येक 12 घंटे के अंतराल पर रियल टाइम भूजल स्तर प्राप्त किये जा रहे है। इन प्राप्त सटीक भूजल स्तर से भूजल संसाधन आंकलन को और अधिक प्रमाणित बनाया जा सकेगा।


Popular posts from this blog

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन

भारत विदेश नीति के कारण वैश्विक शक्ति बनेगा।

बांसडीह में जाति प्रमाण पत्र बनाने को लेकर दर्जनों लोगों ने एसडीएम को सौपा ज्ञापन