‘‘द मिलियन फार्मस स्कूल‘ किसान पाठशाला के दूसरे दिन का आयोजन

उन्नाव 


आज जिलाधिकारी, श्री देवेन्द्र कुमार पाण्डेय, उन्नाव के निर्देशन में कृषि विभाग द्वारा जनपद के सभी विकास खण्डांे के 133 राजस्व ग्रामों में ''द मिलियन फार्मस स्कूल' किसान पाठशाला के दूसरे दिन का आयोजन किया गया। विकास खण्ड सफीपुर के ग्राम मीरनगर में उप कृषि निदेशक ने कृषकों को सम्बोधित करते हुये कहा कि गेंहूॅ की बोवाई लाइन से करें सामान्य जमीन में गेंहॅू की सिंचाई 21 दिन बाद और ऊसरीली जमीन में 28 दिन बाद करें। रबी की फसलों में मृदा स्वास्थ्य कार्ड की संस्तुति के अनुसार ही कार्बनिक एवं रसायनिक उर्वरकोें का प्रयोग करें। किसान भाई कृषि से विविधिकरण करके, रबी मौसम में संरक्षित खेती करके, पशुपालन और मत्स्य पालन करके अपनी आमदनी दोगुनी कर सकते है। उन्होंने बताया कि उद्यान विभाग की ओर से कृषकों को अलग-अलग यंत्रों पर 25 से 35 प्रतिशत तक अनुदान देय है, गार्डेन टैªक्टर (20 बी0एच0पी0) पर 75 हजार से 01 लाख रूपया का अनुदान, पावर टिलर (8 बी0एच0पी0) तक 40 से 50 हजार रूपये, पावर टिलर (8 बी0एच0पी0) से अधिक पर 60 से 75 हजार रूपये का अनुदान देय है। अनुसूचित जाति/जनजाति कृषक प्रक्षेत्रों पर सब्जी उत्पादन की लागत पर प्रति हे0 75 प्रतिशत अनुदान, मसाला उत्पादन पर 90 प्रतिशत , गुलाब उत्पादन पर 90 प्रतिशत तथा गेंदा पर 90 प्रतिशत प्रति हेक्टेयर अनुदान किसान भाई उद्यान विभाग से सम्पर्क कर प्राप्त कर सकते है। उन्होंने सहफसली और अन्तः फसली खेती के रूप में आलू के साथ राई, चना के साथ राई, रबी मक्का के साथ सब्जी मटर, की खेती करने की सलाह दी। उन्होंने कहा कि हरे चारे की बुवाई सीजन के अनुसार करें, जैसे रबी सीजम में बरसीम, सरसों, शलजम साथ ही पशुओं को स्वस्थ्य रखने व उनके दुग्ध उत्पादन में वृद्धि के लिये संतुलित पशु आहार/बाई पास प्रोटीन आहार खिलायें, और चूंकि ठण्ड का मौसम का रहा है, इसलिये पशुओं को खुले स्थान पर न रखंे अथवा उन्हें ठण्ड से बचाने का उचित प्रबन्धन करें। कार्यक्रम में अलग-अलग स्थलों पर जिला कृषि रक्षा अधिकारी, उप सम्भागीय कृषि प्रसार अधिकारी ने एवं पशुपालन विभाग के पशुचिकित्सक ने पाठशाला में उपस्थित रहकर कृषकों को विभागीय योजनाओं की जानकारी दी और तकनीकी जानकारी दी।  


Popular posts from this blog

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन

भारत विदेश नीति के कारण वैश्विक शक्ति बनेगा।

बांसडीह में जाति प्रमाण पत्र बनाने को लेकर दर्जनों लोगों ने एसडीएम को सौपा ज्ञापन