डीएम से मिलकर लगाया फर्जी बैनामें का आरोप

फतेहपुर।


थाना खखरेरू के ग्राम खखरेरू परगना एकडला निवासी बिस्मिल्लाह पत्नी स्वर्गीय अहमद उल्लाह ने जिलाधिकारी को एक शिकायती पत्र देते हुए बताया कि उसके पति के नाम आराजी ग्राम खखरेरू परगना व तहसील खागा में स्थित है। ग्राम के ही शहादत पुत्र साकिर अली ने 01 वर्ष पहले हमारे पति से जालसाजी करके अपनी पत्नी के नाम 4 विस्वा का फर्जी तरीके से बैनामा करा लिया था। जिसकी जानकारी होने पर उपरोक्त घटना की लिखित शिकायत दर्ज कराई थी। जिसमें कोई कार्रवाई नहीं की गई। फिर दोबारा 2 अगस्त को शहादत ने पति को नशीला पदार्थ खिलाकर आराजी नंबर 227क का संपूर्ण अंश का बैनामा अपनी भाई की पत्नी के नाम करा लिया है। नशीला पदार्थ अधिक मात्रा में खिला दिए जाने के कारण पति की मृत्यु 2 सितंबर को हो गई थी। हमारे पति की आराजी का बैनामा 2 अगस्त की संपूर्ण जांच निम्न बिंदुओं पर किया जाना आवश्यक है। उपरोक्त आराजी 11 अगस्त 2015 को बंधक हो चुकी है। इसका बैनामा किस आधार पर किया गया है। आराजी का पैसा विक्रेता को किन-किन आधार पर दिया गया है। आराजी में निवाई में स्टांप शुल्क न्याय संगत अदा किया गया है कि नहीं! जालसाजों के विरुद्ध कई प्रार्थना पत्र दिया। किंतु अभियुक्तगण दबंग व सरकसी व राजनीतिक पहुंच होने के कारण किसी भी प्रकार की कार्यवाही नहीं होने देते हैं। मेरे परिवार को जानमाल की धमकी देते हैं। जिलाधिकारी से प्रार्थना है कि जांच कराकर इन लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने का आदेश करें।
इस मौके पर आफाक खान, दिलशाद अहमद, इफ्तेखार अहमद, शोहराब अली, जान आलम, इखलाख, अफसाना, याश्मीन बानों, चंदा बानो, गुलदान बानो, शबाना बेगम व तमाम ग्रामीण मौजूद रहे।





 




Popular posts from this blog

भारत विदेश नीति के कारण वैश्विक शक्ति बनेगा।

बांसडीह में जाति प्रमाण पत्र बनाने को लेकर दर्जनों लोगों ने एसडीएम को सौपा ज्ञापन

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन