एनसीपी है भाजपा का विकल्प : के.के. शर्मा

लखनऊ।

भारतीय जनता पार्टी की गलत नीतियों के खिलाफ कोई भी राजनैतिक दल मजबूती से नहीं खड़ा हो पा रहा है। महाराष्ट्र में राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) ने भाजपा को मुहतोड़ जवाब देकर यह साबित कर दिया है कि भाजपा का मुकाबला केवल एनसीपी ही कर सकती है। अब यह उत्तर प्रदेश में भी होगा। एनसीपी अब यहां पर मुख्य विपक्षी दल बनकर सबके सामने आयेगी। यह बाते एनसीपी प्रदेश अध्यक्ष के.के. शर्मा ने आज यहां पार्टी कार्यालय पर आयोजित कार्यकर्ता सम्मेलन में कहीं।
इस मौके पर पार्टी के वरिष्ठ प्रदेश उपाध्यक्ष उमाशंकर यादव ने कार्यकर्ताओं से कहा कि यूपी की पूर्ववर्ती सरकारे अपने भ्रष्टाचारों की वजह से डर रही है और भाजपा का सामना नहीं कर पा रही है। भाजपा सत्ता के मद में चूर होकर सबको डरा धमका कर अपनी मनमानी कर रही है, जिससे प्रदेश की जनता कराह रही है। एनसीपी का एक-एक कार्यकर्ता एकजुट होकर भाजपा की गलत नीतियों के खिलाफ एनसीपी जिला मुख्यालयों पर विरोध प्रदर्शन करेगी।
कार्याकर्ता सम्मेलन में उपस्थित प्रदेश उपाध्यक्ष रामसनेही मिश्रा, लक्ष्मण प्रसाद त्रिपाठी, शर्मा पूरन, आर.बी. लाल, केडी मिश्रा, अनिरूद्ध सिंह, प्रदेश महासचिव रमापति सैनी, आयुष प्रताप सिंह यादव, कुसुम सिंह, महिला प्रकोष्ठ मंजू मिश्रा, पिंकी सिंह, रीना सिंह, जिलाध्यक्ष मो0 इस्माइल, करूणेश कुमार द्विवेदी, प्रेम शंकर मिश्रा एवं अन्य कार्यकर्ता मौजूद रहें।


Popular posts from this blog

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन

भारत विदेश नीति के कारण वैश्विक शक्ति बनेगा।

बांसडीह में जाति प्रमाण पत्र बनाने को लेकर दर्जनों लोगों ने एसडीएम को सौपा ज्ञापन