कानून व्यवस्था एवं अभियोजन कार्य सम्बन्धी समीक्षा बैठक


उन्नाव 


आज जिलाधिकारी श्री देवेन्द्र कुमार पाण्डेय की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट स्थित पन्नालाल सभागार में कानून व्यवस्था एवं अभियोजन कार्य से सम्बन्धित समीक्षा बैठक का आयोजन किया गया, जिसमें जिलाधिकारी महोदय ने अभियोजन कार्य एवं कानून व्यवस्था के सम्बन्ध में न्यायालय से जुड़े अधिकारियों एवं शासकीय अधिवक्ताओं से कहा कि मुकदमों की पैरवी, सरकारी/गैर सरकारी गवाहों की उपस्थिति समय से न्यायालय में दर्ज करायी जाये। उन्होंने कहा कि गम्भीर वादों में शासकीय पक्ष मजबूत रखते हुये समय से पीड़ित को न्याय दिलाने का प्रयास करें। गैंगस्टर एक्ट जैसे अन्य वादों में त्वरित पैरवी कराई जाये इसमें शिथिलता न बरती जाये।
जिलाधिकारी ने उपस्थित अधिकारियों से वादों के निस्तारण की गहन समीक्षा की, जिसमें अभियोजित वादों का विवरण, जमींदारी उन्मूलन की धारा पर विचार, तीन बड़ी सजाओं, कार्यवाही शिनाख्त, अभियुक्त एवं माल तथा गवाहों के सम्बन्ध में अपेक्षित कार्यवाही पर बल दिया। जिला पूर्ति, वन एवं परिवहन विभाग के प्रवर्तन कार्यों से सम्बन्धित, आबकारी अपराधों के नियन्त्रण हेतु मारे गये छापे, कृषि प्रकोष्ठ द्वारा न्यायालय भेजे गये मामले, खाद्य अप मिश्रण निवारण अधिनियम के अन्तर्गत कार्यवाही, श्रम, विघुत, अवैध खनन, परिवहन, भण्डारण के विरूद्ध की गयी कार्यवाही की समीक्षा की गयी।
बैठक में पुलिस अधीक्षक श्री माधव प्रसाद वर्मा, अपर जिलाधिकारी श्री राकेश कुमार सिंह, जे0डी0 अभियोजन श्री सुरेन्द्र कुमार यादव, समस्त उप जिलाधिकारी/क्षेत्राधिकारी, शासकीय अधिवक्ता सहित सम्बन्धित उपस्थित थे।


Popular posts from this blog

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन

भारत विदेश नीति के कारण वैश्विक शक्ति बनेगा।

बांसडीह में जाति प्रमाण पत्र बनाने को लेकर दर्जनों लोगों ने एसडीएम को सौपा ज्ञापन