केजीएमयू एवं दी जिनोमिक मेडिसिन फाउण्डेशन, यूनाइटेड किंगडम ने एमओयू पर किए हस्ताक्षर

लखनऊ।

किंग जॉर्ज चिकित्सा विश्वविद्यालय और दी जिनोमिक मेडिसिन फाउण्डेशन, यूनाइटेड किंगडम के बीच गुरूवार को एक एमओयू पर हस्ताक्षर किया गया। इस एमओयू के तहत जिनोमिक अनुप्रयोगों के विकास के लिए दोनों संस्थानों की फैक्लटी एवं छात्र-छात्राएं आपसी लाभ के लिए एक-दूसरे संस्थानों का दौरा कर शोध कार्यों का अदान-प्रदान करेंगे।
इस एमओयू पर केजीएमयू के कुलपति प्रोफेसर एमएलबी भटट् एवं दी जिनोमिक मेडिसिन फाउण्डेशन, यूनाइटेड किंगडम के मेडिकल डायरेक्टर एवं सीईओ प्रो0 धावेन्द्र कुमार ने हस्ताक्षर कर इस समझौते को अपनी स्वीकृति प्रदान की।
शोध कार्यों पर मिलकर करेंगे काम
इस समझौते का मुख्य उद्देश्य दोनों संस्थाओं के मध्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य के क्षेत्र में फेलोशिप, स्कॉलरशिप, शिक्षा एवं प्रशिक्षण तथा जिनोमिक्स हेतु समझौते एवं सहभागिता को बढ़ाना है। इस समझौते के तहत दोनों संस्था एक-दूसरे संकाय सदस्यों, विद्यार्थियों को शैक्षिक एवं तकनीकि स्रोत्रों को प्रयोग करने की अनुमति प्रदान देंगे। इसके साथ ही दोनों संस्थानों द्वारा आपसी सहयोग से विभिन्न शोधों को बढ़़ावा दिया जा सकेगा।
इस अवसर पर मुख्य रूप से डीन, रिसर्च सेल प्रो0 आर0के0गर्ग, अधिष्ठाता, छात्र कल्याण, प्रो0 जी0पी0सिंह, एसोसिएट प्रोफेसर रेडियोथेरेपी विभाग डॉ0 सुधीर सिंह सहित अन्य संकाय सदस्य उपस्थित रहे।


Popular posts from this blog

भारत विदेश नीति के कारण वैश्विक शक्ति बनेगा।

बांसडीह में जाति प्रमाण पत्र बनाने को लेकर दर्जनों लोगों ने एसडीएम को सौपा ज्ञापन

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन