मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना

उन्नाव 


जिलाधिकारी श्री देवेन्द्र कुमार पाण्डेय के निर्देशन में  जिला प्रोबेशन अधिकारी रेनू यादव ने सर्व साधारण को सूचित किया है कि मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजनान्तर्गत निर्धारित छः श्रेणियों के अन्तर्गत लाभान्वित किया जाना है, किन्तु प्रायः देखा जा रहा है कि इण्टरनेट कैफे/सहज जन सेवा केन्द्र/लोकवाणी केन्द्र द्वारा निर्धारित श्रेणियों के अलावा नागरिकों/जनसामान्य को गुमराह कर गलत तरीके से आॅनलाइन आवेदन भरे जा रहे हैं एवं आॅनलाइन आवेदन शुल्क प्राप्त किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि जनपद के समस्त आवेदकों/इण्टरनेट कैफे/सहज जन सेवा केन्द्र/लोकवाणी केन्द्र से अपेक्षा है कि प्रथम श्रेणी में बालिका के जन्म होने पर (0 से 6 माह के अन्दर) रूपये 2000 एक मुश्त, द्वितीय श्रेणी में बालिका के एक वर्ष तक के पूर्ण टीकाकरण के उपरान्त (9 माह से 1 वर्ष के अन्दर) रूपये 1000 एक मुश्त, तृतीय श्रेणी में कक्षा प्रथम में बालिका के प्रवेश के उपरान्त रूपये 2000 एक मुश्त, चतुर्थ श्रेणी में कक्षा छः में बालिका के प्रवेश के उपरान्त रूपये 2000 एक मुश्त, पंचम श्रेणी में कक्षा नौ में बालिका के प्रवेश के उपरान्त रूपये 3000 एक मुश्त तथा षष्टम् श्रेणी में ऐसी बालिकाओं जिन्होनें कक्षा 12वीं उत्तीर्ण करके स्नातक अथवा 02 वर्षीय या आधिक अवधि के डिप्लोमा कोर्स में प्रवेश लिया हो रूपये 5000 एक मुश्त निर्धारित श्रेणियों के अन्तर्गत ही आवेदन करें।
जिला प्रोबेशन अधिकारी ने बताया कि निर्धारित श्रेणियों के अतिरिक्त आवेदन न करें, जैसे कि कक्षा 2,3,4,5,7,8,10,11,12 तथा ग्रेजुएशन/डिप्लोमा कोर्स के प्रथम वर्ष के अतिरिक्त अध्ययनरत छात्राओं का, माता के जीवित होने पर पिता का खाता संख्या अंकित होने पर, निर्धारित श्रेणी के आवश्यक एवं सुस्पष्ट अभिलेख अपलोड न होने की स्थिति में, दो से अधिक बच्चे होने की स्थिति में (जुडव़ा बच्चों को छोड़कर) एवं निर्धारित प्रारूप पर शपथ-पत्र अपलोड न होने की स्थिति में आवेदन निरस्त कर दिया जायेगा।


Popular posts from this blog

भारत विदेश नीति के कारण वैश्विक शक्ति बनेगा।

बांसडीह में जाति प्रमाण पत्र बनाने को लेकर दर्जनों लोगों ने एसडीएम को सौपा ज्ञापन

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन