सुप्रीम कोर्ट अयोध्या फैसले को दृष्टिगत रखते हुए जिला प्रशासन को किया अलर्ट

अराजकता व झूठी अफवाह फैलाने वालों पर रखी जाएगी नजरः
आयुक्त लखनऊ मण्डल
उन्नाव 


अयोध्या प्रकरण में माननीय सुप्रीम कोर्ट के निर्णय को दृष्टिगत रखते हुए आज आयुक्त मण्डल, लखनऊ, श्री मुकेश मेश्राम व पुलिस महानिरीक्षक श्री एस0के0 भगत ने विकास भवन सभागार में जिला स्तरीय अधिकारियों एवं पुलिस अधिकारियों के साथ आवश्यक बैठक की और अमन चैन सौंहदर्य कायम रखने के उद्देश्य से जनपद की सभी तहसीलों, थानों एवं ग्राम स्तर पर की गयी सुरक्षा व्यवस्था एवं तैयारी का बारीकी से समीक्षा बैठक की। उन्होंने उपस्थित अधिकारियों को बहुत सख्त लहजे में निर्देश दिये कि यदि किसी के भी क्षेत्र में कोई भी गड़बड़ी प्रकाश में आती है तो उसके विरूद्ध सख्त कार्यवाही की जायेगी। इसलिये ये आवश्यक है कि समय से आवश्यक तैयारियां पूरी कर ली जायें तथा यह भी सुनिश्चित कर लें कि आने वाले समय में किसी प्रकार की परेशानी न हो। उन्होंने समस्त उप जिलाधिकारी, क्षेत्राधिकारी को स्पष्ट निर्देश दिये कि क्षेत्र में एक साथ जायें और सभी समुदाय के लोगों को समझायें कि कोई ऐसा कार्य अपने क्षेत्र में न होने दें, जिससे आप लोगों की समाज में क्षवि खराब हो, उन्होंने यह भी कहा कि गांव एवं शहर के बिगड़े हुये नवयुवकों की सूची तैयार करें और उनपर नजर बनायें रखें साथ ही उनके अभिभावकों को सख्त हिदायत दें कि अपने बच्चों को कोई भी ऐसी हरकत न करने दें, जिससे किसी भी सम्प्रदाय पर गलत असर पड़े।
समीक्षा बैठक के दौरान उपस्थित अधिकारियों से कहा कि जो लोग प्रशासन का सहयोग करेंगे उन्हें सराहा जाएगा और अराजकता फैलाने वाले लोगों पर पुलिस प्रशासन कड़ी नजर रखेगा जो झूठी अफवाह फैलायेंगे, उन्हें किसी भी हाल में बख्शा नहीं जाएगा। पुलिस प्रशासन हर स्थिति से निपटने के लिए अपने को तैयार रखें। उन्होंने कहा कानून एवं शांति व्यवस्था से खिलवाड़ कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। ट्विटर, फेसबुक, व्हाट्सएप, आदि सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक पोस्ट डालने वालों पर कड़ी कार्यवाही करें। उन्होंने आम जनता से आहवान किया कि आपात स्थिति में 100 व 112 नंबर पर संपर्क स्थापित कर सूचना देकर प्रशासन व पुलिस का सहयोग करें।
समीक्षा के दौरान मण्डलायुक्त एवं पुलिस महा निरीक्षक ने उपस्थित अधिकारियों से कहा कि यह सुनिश्चित करें कि कोई भी भड़काऊ सोशल मीडिया पोस्ट पर तत्काल कार्यवाही करें, अयोध्या फैसले को लेकर जनता नेताओं और धार्मिक गुरूओं के साथ बराबर संवाद बनायें रखें, सभी होटलों की सघन चेकिंग की जाये, अराजकता फैलाने वालों को चिन्हित कर उन्हें पाबन्द किया जाये, उसके बाद भी न मानने पर उनपर कठोर कार्यवाही की जाये, जो कन्ट्रोल रूम बनायें जायें, उसमें पूरी सुविधायें मुहैया हों तथा कन्ट्रोल रूम राउण्ड द क्लाॅक (24 घंटे) चलेगा साथ ही फुट पेट्रोलिंग के साथ पूरे जिले में पीस कमेटी की मीटिंग लगातार जारी रखी जाये।
इस अवसर पर जिलाधिकारी श्री देवेन्द्र कुमार पाण्डेय एवं पुलिस अधीक्षक श्री एम0पी0 वर्मा ने आश्वस्त करते हुये कहा कि शासन की मंशा एवं माननीय न्यायालय के अनुसार पूरी तैयारी कर ली गयी है तथा आने वाले दिनों में शांन्ति व्यवस्था बनाये रखने पर जिला प्रशासन कायम रहेगा।
बैठक में मुख्य विकास अधिकारी डा0 राजेश कुमार प्रतापति, अपर जिलाधिकारी श्री राकेश कुमार सिंह, मुख्य चिकित्साधिकारी, जिला विकास अधिकारी श्री आर0यू0द्विवेदी, नगर मजिस्ट्रेट श्री राकेश कुमार गुप्ता, समस्त अतिरिक्त मजिस्ट्रेट, समस्त उपजिलाधिकारी, समस्त क्षेत्राधिकारी, जिला पंचायत राज अधिकारी, मुख्य पशु चिकित्साधिकारी, सहायक संभागीय परिवहन अधिकारी, जिला कमांडेंट होमगार्ड, अधीक्षक जिला कारागार, मुख्य अग्निशमन अधिकारी, जिला विद्यालय निरीक्षक, जिला पूर्ति अधिकारी, जिला आबकारी अधिकारी, अधिशासी अभियंता जल निगम, अभियंता विद्युत, उप निदेशक सूचना आदि उपस्थित रहे।


Popular posts from this blog

भारत विदेश नीति के कारण वैश्विक शक्ति बनेगा।

बांसडीह में जाति प्रमाण पत्र बनाने को लेकर दर्जनों लोगों ने एसडीएम को सौपा ज्ञापन

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन