उत्तर प्रदेश में अवैध प्रवासियों की पहचान के लिए चल रहा है सर्वेक्षण : मुख्यमंत्री

लखनऊ।


उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि राज्य में अवैध प्रवासियों की तादाद का पता लगाने के लिए एक सर्वेक्षण किया जा रहा है। उन्होंने संवाददाताओं से कहा कि सर्वेक्षण के पूरा होने के बाद हम तय करेंगे कि एनआरसी जैसी कवायद कब शुरू की जाए। हाल में समाप्त हुए उपचुनाव के दौरान मुख्यमंत्री ने बयान दिया था कि उत्तर प्रदेश, असम से राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) को लागू करने का सबक ले सकता है। उन्होंने केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह की पूरे देश में एनआरसी जैसी कवायद के लागू करने की योजना की सराहना की थी।
गृह विभाग के सूत्रों ने पुष्टि की है कि पुलिस विभाग द्वारा राज्य में अवैध प्रवासियों की पहचान के लिए एक सर्वेक्षण चल रहा है। उत्तर प्रदेश के डीजीपी ओ.पी.सिंह की तरफ से करीब एक महीने पहले सभी जिला पुलिस प्रमुखों को अपने संबंधित जिलों में अवैध बांग्लादेशी व दूसरे प्रवासियों की पहचान के सर्वेक्षण करने के लिए एक पत्र भेजा गया है और उन्हें अपनी रिपोर्ट राज्य के गृह विभाग को जमा करना है।


Popular posts from this blog

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन

भारत विदेश नीति के कारण वैश्विक शक्ति बनेगा।

बांसडीह में जाति प्रमाण पत्र बनाने को लेकर दर्जनों लोगों ने एसडीएम को सौपा ज्ञापन