विकास व निर्माण कार्यों की समीक्षा में डीएम ने गुणवत्तापूर्ण कार्य कराने के दिए निर्देश

बिना सूचना अनुपस्थित यूपी सिडको के परियोजना प्रबन्धक के खिलाफ कार्यवाही हेतु शासन को भेजा जाएगा पत्र
गोण्डा।


गुरूवार को जिलाधिकारी डा0 नितिन बंसल ने कलेक्ट्रेट सभागार में विकासपरक व जनकल्याणकारी योजनाओं की मासिक समीक्षा में अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि वे शासन की मंशानुसार विकास कार्यों को निर्धारित समयावधि में गुणवत्तापूर्ण  कार्य कराकर कराएं। जिलाधिकारी ने बैठक से बिना सूचना अनुपस्थित यूपी सिडको के परियोजना प्रबन्धक के खिलाफ कार्यवाही हेतु शासन को पत्र लिखने के निर्देश दिए हैं।
बैठक में जिलाधिकारी ने स्वास्थ्य विभाग द्वारा संचालित एम्बुलेन्स सेवाएं 102 व 108 द्वारा रिस्पान्स टाइम सुधारने व दी गई स्वास्थ्य सेवाओं की समीक्षा हेतु एम्बुलेन्स संचालक कम्पनी जीवीके के प्रतिनिधि को मीटिंग में ही तलब कर विगत माह अप्रैल से अब तक की गई सेवा का माहवार ब्यौरा मांगा है। इसके अतिरिक्त जिले के ऐसे उपकेन्द्र जहां पर अप्रैल माह से लेकर अब तक एक भी प्रसव नहीं कराया गया है, का भी ब्यौरा तलब  किया है। पंचायतीराज विभाग द्वारा जल भराव वाले स्थानों पर साफ-सफाई सुनिश्चित कराने तथा फागिंग कराने के निर्देश दिए गए हैं। जिलाधिकारी ने कहा कि डेंगू का प्रकोप न बढ़े इसके लिए समय रहते पंचायतीराज विभाग व स्वास्थ्य विभाग समन्वय बनाकर साफ-सफाई व फांगिंग सुनिश्चित कराएं। छात्रवृत्ति योजना व पेंशन योजनाओं की समीक्षा हेतु जिलाधिकारी जिला समाज कल्याण अधिकारी को अलग से बैठक कराने तथा छात्रवृत्तिवार ब्यौरा उपलब्ध कराने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने निर्माण कार्यों की समीक्षा के दौरान माननीय मुख्यमंत्री घोषणा में शामिल निर्माण कार्यों में किसी भी स्तर पर लापरवाही न बरतने तथा आवश्यकतानुसार धनावंटन हेतु उनके स्तर से पत्राचार कराने के निर्देश दिए हैं।
समीक्षा बैठक में डीएम ने सड़क निर्माण, विद्युतीकरण, नहरों की स्थिति, ओडीएफ, खनन, निर्माण कार्यो में महिला अस्पताल व जिला अस्पताल में निर्माणाधीन मैटरनिटी विंग व वार्ड, आसरा आवास, फोरेन्सिक लैब, मुख्य पशु चिकित्साधिकारी कार्यालय परिसर में निर्माणाधीन भवन, ओडीआर एमडीआर, पेयजल, बेसिक शिक्षा, हैण्डपम्प रिबोरए गन्ना खरीद व भुगतान, प्रधानमंत्री आवास योजना शहरी व ग्रामीण, फसल बीमा योजना, मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना, सोलर लाइटों के प्रतिस्थापन, खाद्य सुरक्षा योजना, राज्य वित्त एवं 14वां वित्त आयोग, ग्राम स्वरोजगार अभियान, सहित अन्य विभागों की विभागवार समीक्षा की तथा आवश्यक निर्देश दिए। विकास कार्यों की समीक्षा के बाद जिलाधिकारी ने कार्यदाई संस्थाओं के अधिकारियों के साथ बैठक कर निर्माण कार्यों की अगल से समीक्षा की तथा र्धिरित समय सीमा के भीतर गुएावत्तापूर्ण कार्य कराने के निर्देश दिए हैं।
बैठक में मुख्य विकास अधिकारी आशीष कुमार, सीएमओ डा0 मधु गैरोला, पीडी, डीसी मनरेगा व एनआरएलएम, डीएसटीओ, डीसीओ, प्रोबेशन अधिकारी, जिला समाज कल्याण अधिकारी, डीडी एग्रीकल्चर, एलडीएम, डीएसओ, सभी कार्यदाई संस्थाओं के एक्सईएन व अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।


 

 

 

Popular posts from this blog

भारत विदेश नीति के कारण वैश्विक शक्ति बनेगा।

बांसडीह में जाति प्रमाण पत्र बनाने को लेकर दर्जनों लोगों ने एसडीएम को सौपा ज्ञापन

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन