CAA के खिलाफ दिल्ली में प्रदर्शन जारी

सीलमपुर में पुलिस और प्रदर्शनकारियों के बीच झड़प



नागरिकता संशोधन अधिनियम के विरोध के दौरान दिल्ली के जाफराबाद इलाके में पुलिस और प्रदर्शनकारियों के बीच झड़प हुई है। प्रदर्शन के कारण सीलमपुर से जाफराबाद तक 66 फीट रोड पर ट्रैफिक बंद कर दिया गया है। दो बसों में तोड़-फोड़ करने की कोशिश की गई है। प्रदर्शनकारियों ने पुलिस पर पथराव किया। झड़प के बाद पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को तितर-बितर करने के लिए आंसू गैस के गोले दागे। फिलहाल पुलिस स्थिति को नियंत्रित करने में जुटी है। दिल्ली मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन ने कहा कि वेलकम, जाफराबाद और मौजपुर-बाबरपुर, सीलमपुर और गोकुलपुरी के प्रवेश और निकास बंद हैं। इन स्टेशनों पर ट्रेनें नहीं रुकेंगी।


वहीं संशोधित नागरिकता कानून और प्रस्तावित राष्ट्रीय नागरिक पंजी (एनआरसी) के खिलाफ मंगलवार को भी जामिया मिल्लिया इस्लामिया में हल्के फुल्के प्रदर्शन जारी रहे। इलाके में तनावपूर्ण शांति है। सर्द मौसम की परवाह न करते हुए छात्रों और स्थानीय नागरिकों समेत प्रदर्शनकारियों ने सुबह करीब 10 बजे विश्वविद्यालय के गेट नंबर 7 पर जमा होना शुरू कर दिया। उनके हाथों में तिरंगे तथा पोस्टर थे।


दिन चढ़ते-चढ़ते भीड़ बढ़ने लगी। कई लोग मोटरसाइकिलों और कारों से प्रदर्शन स्थल पर पहुंचे। इस दौरान 'ज्यादती से आजादी', 'आवाज दो, हम एक हैं' जैसे नारे लग रहे थे। महिलाओं समेत कुछ प्रदर्शनकारियों ने गेट संख्या 7 के बाहर घेरा बनाया तो कई लोगों ने पीली रस्सियों के सहारे मानव श्रृंखला बनाईं। हालांकि उन्होंने इस बात का ध्यान रखा कि यातायात जाम नहीं हो। छात्रों ने बताया कि उनके कई सहपाठी अपने-अपने घर जा चुके हैं लेकिन उन्होंने यहीं रहने का और तब तक लड़ाई जारी रखने का फैसला किया जब तक कि नागरिकता कानून में किए गए संशोधन वापस नहीं लिए जाते। कुछ स्थानीय लोग मीडिया से नाराज नजर आए। उनका दावा था कि उनका पक्ष नहीं दिखाया गया।


Popular posts from this blog

भारत विदेश नीति के कारण वैश्विक शक्ति बनेगा।

बांसडीह में जाति प्रमाण पत्र बनाने को लेकर दर्जनों लोगों ने एसडीएम को सौपा ज्ञापन

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन