छेड़छाड़ पर सीधे बर्खास्त होंगे टीचर

विधानसभा में बोले शिक्षा मंत्री, एफआईआर भी होगी दर्ज
धर्मशाला


विधानसभा में बुधवार को शिक्षा मंत्री सुरेश भारद्वाज ने दो टूक कहा कि सरकार राज्य के सरकारी स्कूलों में शिक्षकों द्वारा छात्राओं से छेड़छाड़ की घटनाओं के प्रति कड़ा रुख अपनाएगी और ऐसे शिक्षकों को बर्खास्त किया जाएगा और उनके खिलाफ एफआईआर भी दर्ज करवाई जाएगी। श्री भारद्वाज ने विपक्ष के नेता मुकेश अग्निहोत्री द्वारा इस संबंध में उठाए गए सवाल पर सदन में यह जानकारी दी। गौर हो कि देवभूमि हिमाचल प्रदेश में शिक्षा के मंदिर कहे जाने वाले स्कूलों में लगातार कन्या के रूप में पूजे जाने वाली बेटियों के साथ गुरुओं द्वारा ही अभद्र व्यवहार के मामले सामने आ रहे हैं। कुछ समय में ही एक दर्जन के करीब ऐसे मामले सामने आ चुके हैं। इतना ही नहीं ताजा घटनाक्रम में 13 लड़कियों ने एक शिक्षक पर गंभीर आरोप लगाए हैं। इसमें बड़ी बात यह है कि राष्ट्रीय स्तर के पुरस्कार विजेता शिक्षकों के नाम भी ऐसे मामलों में संलिप्त पाए गए हैं। इसके चलते सदन में खूब आक्रोश देखने को मिला और अब शिक्षा के मंदिरों को साफ-सुथरा बनाने की नींव भी शक्तिपीठों के जिला कांगड़ा में रख दी गई है। विधानसभा धर्मशाला में शिक्षा मंत्री ने कड़े शब्दों में कहा है कि ऐसे शिक्षकों की सेवाएं अधिनियम 311 के तहत पूरी तरह से बर्खास्त कर दी जाएंगी। नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री द्वारा उठाए गए मामलों पर शिक्षा मंत्री ने कहा कि स्कूलों में बच्चों से छेड़छाड़ के मामलों में शामिल शिक्षकों के खिलाफ सेवाएं अधिनियम 311 के तहत बर्खास्त करने का प्रावधान किया जाएगा। सरकार ऐसे मामलों में किसी तरह की कोई ढील नहीं बरतेगी तथा आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि इस पर किसी भी प्रकार की राजनीति के बजाय सभी को मिलकर कार्य करना होगा और किसी भी प्रकार की सिफारिश बर्दाश्त नहीं की जाएगी। शिक्षा मंत्री ने कहा कि हरोली के स्कूल में छात्राओं से छेड़छाड़ के मामले में आरोपी शिक्षक को निलंबित करने के बाद उसे जिला से बाहर विभाग के मुख्यालय में भेज दिया गया है, तथा मामले की जांच के आदेश दे दिए गए हैं। वहीं जातीय भेदभाव के मामले में भी सराज के एक प्राइमरी स्कूल की मुख्याध्यापिका को निलंबित कर दिया गया है। साथ ही मामले को लेकर पूरी जांच भी की जा रही है।


Popular posts from this blog

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन

भारत विदेश नीति के कारण वैश्विक शक्ति बनेगा।

मंत्र की उपयोगिता जांचें साधना से पहले