पुराने जंग लगे सामान को चमकाएं इस तरह


जब मेटल लंबे समय तक पानी के संपर्क में रहता है, तो इससे उस पर जंग लग जाता है। यह जंग किसी टूल्स, आउटफोर फर्नीचर, कार या किसी भी मेटल पर लग सकता है। ऐसे में अधिकतर लोग उस सामान को पुराना व बेकार समझकर उसे बाहर कर देते हैं। अगर आप भी ऐसा ही कुछ करते हैं तो अब आपको यह करने की जरूरत नहीं है। आज हम आपको पुराने जंग लगे सामान को आसानी से चमकाने के कुछ आसान तरीकों के बारे में बता रहे हैं−


नींबू का रस
नींबू में मौजूद एसिड एक नेचुरल क्लीनर के रूप में जाना जाता है। यह जंग को साफ करने में भी काफी काम आता है। धातु से जंग हटाने के लिए आपको नींबू के साथ−साथ नमक की भी जरूरत पड़ेगी। इसके लिए आप जंग लगे सामान के ऊपर नमक लगाएं। जब आप एक बार नमक लगा लें तो उसके ऊपर आप नींबू का रस लगाएं। इसके अलावा अगर आप चाहें तो नींबू के रस में नमक लगाकर उसे धातु के उपर लगाकर दो घंटे के लिए छोड़ दें। अब इसे हल्का रगड़ते हुए क्लीन करें। 
बेकिंग सोडा
बेकिंग सोडा भी जंग को हटाने में काम आता है। इसके लिए एक बाउल में बेकिंग सोडा डालकर उसमें थोड़ा पानी मिक्स करें और पेस्ट बनाएं। अब इसे जंग लगे एरिया पर लगाएं और कुछ घंटों के लिए ऐसे ही छोड़ दें। उसके बाद टूथब्रश की मदद से पेस्ट को स्क्रब करते हुए क्लीन करें। इससे सामान से सारा जंग हट जाएगा। इसके बाद साफ पानी से सामान को क्लीन करें। अंत में तौलिए की मदद से पोंछे। अंत में उसे सूखने दें।
विनेगर 
सिरके को बेस्ट नेचुरल क्लीनर माना जाता है। ऐसे में आप जंग को हटाने के लिए भी इस्तेमाल कर सकते हैं। अगर आप चाकू या छोटे सामान से जंग हटाना चाहते हैं तो आप उस सामान को एक विनेगर के बाउल में भिगोकर रख दें। आप रातभर के लिए इसे ऐसे ही छोड़ दें। अगली सुबह बाउल से सामान निकालें और ब्रश की मदद से स्क्रब करें। अब आप पानी की मदद से इसे क्लीन करें और तौलिए से पोंछे। अंत में इसे कुछ देर के लिए पूरी तरह सूखने दें।
सिटिक एसिड का कमाल
सिटिक एसिड किसी भी सामान से जंग को आसानी से हटा देता है। यह आपको मार्केट में आसानी से मिल जाएगा। बस आप इससे सामान को कोट करके कुछ घंटों के लिए छोड़ दें। अंत में स्क्रब करते हुए क्लीन करें। 


Popular posts from this blog

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन

भारत विदेश नीति के कारण वैश्विक शक्ति बनेगा।

बांसडीह में जाति प्रमाण पत्र बनाने को लेकर दर्जनों लोगों ने एसडीएम को सौपा ज्ञापन