घर पर डार्क सर्कल्स हटाना है बेहद आसान


आज के समय में आंखों के नीचे डार्क सर्कल्स हो जाना कोई नई बात नहीं है। देर रात तक कंप्यूटर व फोन पर लगे रहना, पूरी नींद ना लेना, खाने−पीने में लापरवाही ऐसी कई चीजें हैं, जो डार्क सर्कल्स की वजह बनती हैं। शुरूआत में कोई भी इन डार्क सर्कल्स पर ध्यान नहीं देता। लेकिन जब डार्क सर्कल्स साफ नजर आने लगते हैं तो इससे आपकी नेचुरल ब्यूटी प्रभावित होती है। आंखों के नीचे काले घेरे होंगे, तो यकीनन वह किसी को भी अच्छे नहीं लगेंगे। तो चलिए आज हम आपको इन काले घेरों से छुटकारा पाने के आसान उपायों के बारे में बता रहे हैं−


खीरे की स्लाइस
खीरे में एंटीऑक्सीडेंट्स होते हैं, जो आंखों के आसपास की पफनेस को दूर करते हैं। इतना ही नहीं, यह डार्क सर्कल से निजात पाने का भी बेहतरीन उपाय है। इसके लिए आप खीरे को स्लाइस करके कुछ देर के लिए फ्रिज में रख दें। अब इस ठंडी खीरे की स्लाइस को अपनी दोनों आंखों पर रखकर पांच मिनट के लिए ऐसे ही छोड़ दें। अंत में पानी से आंखों व चेहरे को वॉश करें।
इसे भी पढ़ें: यदि सर्दियों में सिर धोने से बचना चाहते हैं तो इस्तेमाल करें ड्राई शैम्पू


कोल्ड टी बैग्स
कोल्ड टी बैग्स भी आंखों की सूजन व काले घेरों को दूर करने के लिए प्रभावी तरीके से काम करते हैं। इसके लिए आप टी−बैग्स को गीला करके उसे दस मिनट के लिए फ्रिज में ठंडा होने के लिए रखें। अब इन दोनों टी−बैग्स को अपनी दोनों आंखों पर रखकर पांच से दस मिनट के लिए छोड़ दें। फिर ठंडे पानी से आंखों को वॉश करें। आप दिन में दो से तीन बार यही प्रक्रिया दोहराएं। आप यूज्ड टी−बैग्स का इस्तेमाल भी कर सकते हैं।
 
पुदीने की पत्तियां
पुदीने की पत्तियों में मेन्थॉल पाया जाता है, जो ब्लड सर्कुलेशन को बेहतर बनाता है और स्किन को रिजुविनेट करता है। इसके अलावा पुदीने में मौजूद विटामिन सी आपकी आंखों के आसपास की स्किन को ब्राइटर भी बनाता है। इसके इस्तेमाल के लिए आप पुदीने की पत्तियों को पीसकर एक मास्क तैयार करें और उसे प्रभावित स्थान पर लगाएं। करीबन दस मिनट बाद आप उसे धो दें।
दूध
दूध में विटामिन ए और बी 6 होते हैं, जो त्वचा की नई कोशिकाओं को बनाने में मदद करते हैं। साथ ही इसमें मौजूद विटामिन बी 12 डार्क स्किन को नेचुरली लाइटन करता है। आप इसकी मदद से डार्क सर्कल्स से भी छुटकारा पा सकती हैं। इसके इस्तेमाल के लिए दो कॉटन बॉल लेकर उसे ठंडे दूध में सोक करें और अतिरिक्त दूध को निचोड़ लें। अब इस कॉटन बॉल को अपनी आंखों के ऊपर कुछ इस तरह रखें कि डार्क सर्कल एरिया भी कवर हो। करीबन 20 मिनट तक इसे ऐसे ही छोड़ दें और अंत में ठंडे पानी से इसे धो दें। सप्ताह में तीन बार यह प्रक्रिया दोहराएं।


Popular posts from this blog

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन

मंत्र की उपयोगिता जांचें साधना से पहले

’’पवन गुरू, पानी पिता, माता धरति महत’’ को अपने जीवन का अंग बनायें : स्वामी चिदानन्द सरस्वती