‘जुंआरियों पर गिरी पुलिस की गाज’

जुंआ एक जुर्म ही नहीं वरन कई सामाजिक अपराधों की जड़ है  श्रीमान पुलिस अधीक्षक उन्नाव के अनुसार जुँआ पर अंकुश लगाना अन्य अपराधों की रोकथाम हेतु आवश्यक कदम है। जुँआ खेलकर नववर्ष के उत्सव का जश्न मनाते हुये 06 जुंआरियों को थाना अचलगंज पुलिस द्वारा मौके से पत्तों व पैसों सहित धर दबोचा गया ।
दिनांक 01.01.2020 की दिरमियानी रात को  उ0नि0 दीपक कुमार व उ0नि0 चन्द्रिका प्रसाद तिवारी द्वारा मय पुलिस बल के साथ रात्रि गश्त के दौरान दो अलग अलग स्थानों पर कुल 06 जुंआरी गिरफ्तार किये गये जिनमें उ0नि0 दीपक कुमार की टीम द्वारा ग्राम पच्चोड्डा सरांय के सुरेश कुमार पुत्र छेदीलाल, प्रताप पुत्र आशाराम , सोनू पुत्र रमेश व कमला शंकर पुत्र रामकुमार से जुँआ राशि 1700 रु व 52 पत्तों के अलावा 590 रु0 अन्य बरामद किये गये , दूसरी तरफ उ0नि0 चन्द्रिका प्रसाद तिवारी की टीम द्वारा कानपुर के दहेली सुजानपुर निवासी अवधेश राजपूत पुत्र स्व0 बदलू व थाना कोतवाली सदर उन्नाव के ग्राम गंगाखेड़ा निवासी रामदास लोध पुत्र नन्दीलाल को जुँआ राशि 1300 रु व ताश पत्तों के अलावा 550 रु0 अतिरिक्त के साथ गिरफ्तार किया गया । उपरोक्त प्रकरण में क्रमशः मु0अ0सं0 04/2020 व 05/2020 धारा 13 जुँआ अधिनियम पंजीकृत किये गये ।


Popular posts from this blog

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन

मंत्र की उपयोगिता जांचें साधना से पहले

’’पवन गुरू, पानी पिता, माता धरति महत’’ को अपने जीवन का अंग बनायें : स्वामी चिदानन्द सरस्वती