लम्बित महिला उत्पीड़न के मामलों की स्थलीय जनसुनवाई

उन्नाव 


आज उ0प्र0 राज्य महिला आयोग की मा0 सदस्या श्रीमती मनोरमा शुक्ला की अध्यक्षता में आयोग में लम्बित महिला उत्पीड़न के मामलों की स्थलीय जनसुनवाई हेतु समीक्षा की गयी। जिसमें एक रेप पीड़िता द्वारा आरोपी के परिजनों के धमकाने की शिकायत की गई, जिस सम्बन्ध में मा० सदस्या  ने थानाध्यक्ष हसनगंज को निर्देशित किया कि पीड़िता को धमकाने वालों के विरूद्ध अविलम्ब कार्यवाही की जाये। श्रीमती ऊषा जायसवाल द्वारा अपने उत्पीड़न से सम्बंधी प्रार्थना पत्र मा० सदस्या को सौंपे जाने पर मा० सदस्या द्वारा प्रकरण के निस्तारण हेतु सम्बंधित को आदेशित किया गया।
जनसुनवाई की समीक्षा के पश्चात मा0 सदस्या ने सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र, सफीपुर का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के समय अधीक्षक उपस्थित पाये गये परन्तु चिकित्सालय परिसर में अत्यधिक गंदगी पाई गई, जिसके लिये उन्होंने अत्यन्त नाराजगी व्यक्त की। तत्पश्चात राजकीय वृद्धाश्रम तकिया निगोही का निरीक्षण किया । निरीक्षण के दौरान वृद्धाश्रम में कुल 68 वृद्ध निवासरत पाये गये, वृद्धों के आवासीय परिसर का निरीक्षण मा0 सदस्या द्वारा किया गया। उन्होंने परिसर में हीटर लगाने के लिये संस्था के अधीक्षक को आदेशित किया। साथ ही मा0 सदस्या द्वारा वृद्धों के चिकित्सा व्यवस्था के सम्बन्ध में जानकारी प्राप्त की। अधीक्षक द्वारा अवगत कराया गया कि निकट सी0एच0सी0 के चिकित्सकों के द्वारा माह में दो बार निवासरत वृद्धों के स्वास्थ्य का परीक्षण किया जाता है। निरीक्षण के दौरान किसी भी वृद्ध द्वारा कोई समस्या नहीं बताई गयी। मा0 सदस्या द्वारा वृद्धों को ऊनी वस्त्र वितरित किये गये और वृद्धांे के साथ भोजन भी किया।
जनसुनवाई के दौरान अर्चना शुक्ला, महिला सहायता प्रकोष्ठ, डा0 अर्जुन सारंग ए0सी0एम0ओ0, अनिरूद्ध सिंह, एस0आई मानवाधिकार प्रकोष्ठ, श्रीमती रेनू यादव जिला प्रोबेशन अधिकारी, श्रीमती सोनी सिंह अपर जिला सूचना अधिकारी आदि उपस्थित रहीं।


Popular posts from this blog

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन

भारत विदेश नीति के कारण वैश्विक शक्ति बनेगा।

मंत्र की उपयोगिता जांचें साधना से पहले