पेंशन माह मनाए जाने के संबंध में कमेटी के सदस्यों के साथ बैठक

उन्नाव 


मुख्य विकास अधिकारी डॉक्टर राजेश कुमार प्रजापति की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट स्थित पन्नालाल सभागार में प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना (पीएमएसवाईएम) एवं प्रधानमंत्री लघु व्यापारी योजना मानधन योजना के अंतर्गत असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों एवं लघु व्यापारियों के पंजीयन हेतु दिनांक 01 फरवरी 2020 से 29 फरवरी 2020 तक पेंशन माह मनाए जाने के संबंध में कमेटी के सदस्यों के साथ बैठक की गई। बैठक के दौरान इस योजना के असंगठित क्षेत्र के कर्मकार जो घरेलू कर्मकार,गली में फेरी लगाने वाले, प्राथमिक विद्यालय के रसोईया, सिर पर बोझा ढोने वाले, ईट भट्ठा कर्मकार, मोची, कूड़ा बीनने वाले, घरेलू कर्मकार, धोबी, रिक्शा चालक, ग्रामीण भूमिहीन ऑन अकाउंट कर्मकार कर्मकार, कृषि कर्मकार, संनिर्माण कर्मकार, बीड़ी कर्मकार, हथकरघा कर्मकार,चमड़ा कर्मकार, आंगनबाड़ी कार्यकरती, आशा, श्रमिक, दृश्य श्रव्य कर्मकार के रूप में एवं ऐसे ही अन्य व्यवसाय में कार्य कर रहे असंगठित कर्मकारो को उनकी वृद्धावस्था से संबंधित सुरक्षा प्रदान किए जाने हेतु प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना में पंजीयन हेतु विचार विमर्श किया गया। सहायक श्रम आयुक्त डॉ हरीश चंद्र सिंह ने बताया कि  प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना के अंतर्गत ₹15000 या इससे कम मासिक आय वाले ऐसे असंगठित कर्मकार जिनकी आयु 18 वर्ष से 40 वर्ष के मध्य है आवर्त होंगे परंतु संगठित क्षेत्र में काम करने वाले कर्म कार अथवा  ई पी एफ/एन पी एस/ ई एस आई सी धारक आयकर दाता इसमें शामिल नहीं होंगे।  योजना का चयन करने वाले इच्छुक पात्र असंगठित श्रमिकों को अपनी आयु के अनुसार ₹55 से लेकर ₹200 प्रति माह नियमित अंशदान नजदीकी सीएचसी सेंटर के माध्यम से जमा करना होगा और उतनी ही धनराशि भारत सरकार द्वारा दी जाएगी। जिसके लिए उसे आधार कार्ड एवं सेविंग बैंक अकाउंट/जनधन खाता आईएफएससी कोड सहित पंजीकरण हेतु उपलब्ध कराना होगा। उन्होंने बताया कि इस योजना में सम्मिलित होने के पश्चात अभिदाता की 60 वर्ष आयु पूर्ण होने पर न्यूनतम ₹3000 मासिक पेंशन सरकार द्वारा देय होगी तथा नेशनल पेंशन स्कीम योजना के अंतर्गत व्यापारियों दुकानदारों व्यापारियों ( दुकानदारों,खुदरा व्यापारियों व स्वरोजगारो जिनका वार्षिक टर्नओवर 1.5 करोड़ से कम हो)  को नेशनल पेंशन स्कीम- ट्रेडर्स मे लक्षित पंजीयन कराया जाना है।


बैठक के दौरान मुख्य विकास अधिकारी द्वारा  प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना के अंतर्गत पंजीकृत श्रमिकों क्रमश श्रीमती दीपाली वर्मा, श्रीमती संगीता वर्मा,श्री गुरुदीन सोनवानी, श्री गुलशन,श्रीमती संजू यादव, श्री आलोक यादव, सुश्री स्नेहा वर्मा एवं श्रीमती शन्नो वर्मा को पंजीकरण कार्ड का वितरण किया गया।


 


Popular posts from this blog

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन

मंत्र की उपयोगिता जांचें साधना से पहले

’’पवन गुरू, पानी पिता, माता धरति महत’’ को अपने जीवन का अंग बनायें : स्वामी चिदानन्द सरस्वती