आज चौथी बार शिवराज लेंगे मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री पद की शपथ!


विधायक दल की बैठक में लगेगी अंतिम मोहर


भोपाल।


मध्यप्रदेश में शिवराज सिंह चौहान का चौथी बार मुख्यमंत्री बनना लगभग तय हो गया है। नए मुख्यमंत्री का नाम तय करने के लिए भाजपा विधायक दल की बैठक प्रदेश भाजपा कार्यालय में होने जा रही है। पार्टी से जुड़े सूत्र बताते हैं कि शिवराज सिंह चौहान को लेकर भाजपा आलाकमान ने अपनी हरी झंडी दे दी है और अब इस पर विधायक दल की बैठक में मंजूरी मिलना औपचारिकता मात्र ही है। कोरोना के चलते विधायक दल की बैठक में केंद्रीय पर्यवेक्षक दिल्ली से वीडियो कॉफेंसिंग के जरिए जुड़ेंगे। पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा का कहना है कि आज शाम पार्टी दफ्तर में विधायक दल की बैठक होगी और इसके बाज राजभवन में शपथ ग्रहण समारोह होगा।


मध्यप्रदेश के वरिष्ठ पत्रकार गिरिजाशंकर कहते हैं कि उन्होंने पहले ही वेबदुनिया से बातचीत में कहा था कि शिवराज सिंह चौहान ही मध्यप्रदेश के अगले मुख्यमंत्री बनेंगे और इसको लेकर कभी भी कोई संशय की गुजाइंश ही नहीं थी। वह कहते हैं कि जिस तरह कांग्रेस के सत्ता में रहते हुए भाजपा की तरफ से जो भी अभियान चलाए गए उन सभी की अगुवाई जिस नेता ने की है, उस पर ही पार्टी विधायक दल की बैठक में सर्वसम्मति बनेगी और वह नाम है शिवराज सिंह चौहान का।


गिरिजाशंकर कहते हैं कि मध्यप्रदेश में भाजपा की सरकार जाने के बाद शिवराज ही अकेले नेता रहे जिन्होंने विपक्ष में रहने के बाद भी एक दिन आराम नहीं किया है। शिवराज एक बड़े जनाधार वाले नेता है और उनका आज भी प्रदेश के लोगों यानि वोटरों से सीधा संपर्क है। पार्टी के अंदर शिवराज सिंह एक मात्र ऐसे चेहरे के रूप में नजर आते है जो अनुभव, परिपक्वता और सर्वमान्य है।


शिवराज सिंह चौहान के चौथी बार मुख्यमंत्री बनने के पीछे उनका मध्यप्रदेश में आज भी सबसे लोकप्रिय नेताओं में पहले पायदान पर होना है। पार्टी हाईकमान आने वाले दिनों में प्रदेश में 24 सीटों पर होने वाले उपचुनाव में उनकी इसकी लोकप्रियता के सहारे एक बार अपने इस गढ़ पर पूरी तरह कब्जा कर पूरी तरह निश्चिंत हो जाना चाहता है।


Popular posts from this blog

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन

मंत्र की उपयोगिता जांचें साधना से पहले

भारत विदेश नीति के कारण वैश्विक शक्ति बनेगा।