प्रेस एसोसिएशन ने पीएम नरेंद्र मोदी को लिखा पत्र, पत्रकारों को भी इंश्योरेंस कवर के दायरे में लाने की मांग


नई दिल्ली।


कोरोना वायरस को लेकर प्रेस एसोसिएशन ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को एक पत्र लिखा है, जिसमें उन्होंने पत्रकारों के लिए इंश्योरेंस की मांग की है। प्रेस एसोसिएशन ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से आग्रह किया है कि कोरोना वायरस के खतरे के तहत अस्पतालों में जुटे डॉक्टर्स, नर्स और अन्य मेडिकल सेवा के लिए जिस तरह पचास लाख के इंश्योरेंस की घोषणा की गई है, वैसे ही पत्रकारों के लिए भी इंश्योरेंस की घोषणा की जानी चाहिए।


वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने इस विषम परिस्थितियों में स्वास्थ्य सेवा में जुटे मेडिकल सेवा कर्मियों के लिए पचास लाख रुपये के इंश्योरेंस की घोषणा की है। इसको लेकर प्रेस एसोसिएशन ने मांग की है कि उनको भी इसी तरह का इंश्योरेंस कवर मिलना चाहिए जो ऐसी मुश्किल घड़ी में लोगों की सेवा कर रहे हैं।


प्रधानमंत्री को लिखे पत्र में प्रेस एसोसिएशन ने अनुरोध किया है कि मेडिकल सेवा के साथ उस लिस्ट में पत्रकारों को भी जोड़ा जाए। मीडिया के कामकाज को जरूरी सेवाओं में शामिल कर उनके कामकाज का प्रधानमंत्री ने खुद अभिवादन किया है। प्रेस एसोसिएशन ने कहा कि पत्रकारों के लिए भी इंश्योरेंस सेवा लागू होने से ग्राउंड जीरो से पल-पल की खबरें देश को पहुंचा रहे, राष्ट्र सेवा में जुटे पत्रकारों और उनके परिजनों को लगेगा कि केंद्र सरकार को उनकी भी उतनी ही चिंता है।


देशभर में 724 मामलों की पुष्टि


भारत में जारी लॉकडाउन के बीच भी कोरोना वायरस के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं। अब तक देश में संक्रमण के 724 मामलों की पुष्टि हो चुकी है, जिनमें से 17 लोगों की मौत हो चुकी है। केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की वेबसाइट पर उपलब्ध जानकारी के अनुसार, 'देश में कोराना वायरस के अब तक 694 मामले की पुष्टि हुई है, जिनमें 647 भारतीय जबकि 47 विदेशी शामिल हैं।


देश में कोरोनावायरस से पीड़ित 45 मरीज ठीक हो चुके हैं, जबकि 16 लोगों की मौत हो गई है।' दुनियाभर में जानलेवा कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की तादाद बढ़कर पांच लाख से अधिक हो गई है और 22,000 के अधिक लोग इस महामारी का शिकार बनकर दम तोड़ चुके हैं। दुनियाभर में कोरोना पीड़ित मरीजों जो ठीक हो चुके हैं, उनकी संख्या तकरीबन 1.21 लाख हो चुकी है। 


Popular posts from this blog

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन

भारत विदेश नीति के कारण वैश्विक शक्ति बनेगा।

मंत्र की उपयोगिता जांचें साधना से पहले