अनीता राज  के घर पार्टी की सूचना पाकर पहुंची मुंबई पुलिस


फिल्‍म और टीवी अभिनेत्री अनीता राज के घर उस वक्‍त हंगामा मच गया जब उनके पड़ोसियों ने उनके खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई. एक न्यूज पोर्टल के मुताबिक पड़ोसियों ने आरोप लगाया कि अनीता राज और उनके पति सुनील हिंगोरानी अपने पाली हिल स्थित निवास पर मेहमानों के साथ पार्टी कर रहे थे. लॉकडाउन के बीच पार्टी होस्ट करने की शिकायत मिलने के बाद बीती रात अनीता राज के आवास पर पुलिस पहुंची.


रिपोर्ट में एक सूत्र के हवाले से बताया गया है कि पड़ोसियों को इस बात की चिंता थी कि आगंतुकों का इस तरह वहां आना उनके स्वास्थ्य के लिए खतरा है, जिसके बाद स्थानीय पुलिस को सूचित किया गया.


हालांकि अनीता राज ने मुंबई मिरर से बातचीत में कहा कि,' बात यह है कि मेरे पति एक डॉक्टर हैं. उनके एक दोस्त की मेडिकल इमरजेंसी थी, इसलिए वह अपनी पत्नी के साथ आये थे, हमने सहायता प्रदान की. मेरे पति मानवीय आधार पर मना नहीं कर सकते थे. झूठी शिकायत पर पुलिस आ गई. स्थिति की जांच करने के बाद उन्होंने माफी मांगी. ऐसी गंभीर स्थिति में हम इतने गैर जिम्मेदार नहीं हो सकते कि पार्टी आयोजित करें.'


रिपोर्ट ने सूत्र के हवाले से लिखा कि,' जब से देशभर में लॉकडाउन की घोषणा हुई है तब से सोसाइटी में बाहर से आने-जाने वालों पर सख्‍त मनाही है. सोमवार को अनीता राज के घर पर कुछ लोगों को आते हुए देखा गया. ऐसे में स्‍वास्‍थ्‍य की चिंता करते हुए पड़ोसियों ने पुलिस को खबर कर दी.'


पड़ोसियों की शिकायत के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और इस मामले की पड़ताल की. मामला ज्‍यादा बिगड़ता नजर नहीं आया जिसके बाद पुलिस लौट आई. इस घटना का एक वीडियो भी बनाया गया जिसमें अनीता राज और उनके पति अपार्टमेंट के गार्ड से बहस करते नजर आ रहे हैं. सूत्रों के अनुसार, वे जानना चाह रहे थे कि उनके खिलाफ किसने शिकायत की.


अनीता राज ने बॉलीवुड में अपने करियर की शुरूआत साल 1982 में फिल्म 'प्रेम गीत' से की थी जिसके बाद वो रातों रात स्टार बन गईं थीं. इसके अलावा वह नौकर बीवी का और जमीन आसमान जैसी फिल्मों में नजर आ चुकी हैं. साथ ही वह कई चर्चित टीवी सीरीयल्‍स में दिख चुकी है. अभिनेत्री इनदिनों 'छोटी सरदारनी' में कुलवंत कौर की भूमिका निभा रही हैं.


Popular posts from this blog

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन

मंत्र की उपयोगिता जांचें साधना से पहले

’’पवन गुरू, पानी पिता, माता धरति महत’’ को अपने जीवन का अंग बनायें : स्वामी चिदानन्द सरस्वती