देश में कोविड-19 ने ली 723 जानें

कोरोना वायरस: महामारी से निपटने में ...

देश में कोरोना वायरस महामारी के कारण गुरुवार से आज तक 37 और लोगों की जान जाने के साथ ही, कोविड-19 से मरने वालों की संख्या बढ़कर 723 पहुंच गई। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक शुक्रवार को कोरोना वायरस संक्रमण के रिकॉर्ड 1,752 नए मामले सामने आए जिन्हें मिलाकर संक्रमित लोगों की कुल संख्या 23,452 पहुंच गई। इससे पहले 20 अप्रैल को एक दिन में सबसे ज्यादा 1,540 मामले सामने आए थे। मंत्रालय ने कहा देश में अभी 17,915 कोविड-19 मरीजों का इलाज चल रहा है जबकि 4,813 लोगों को ठीक होने के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गई तथा एक व्यक्ति विदेश चला गया। मंत्रालय के एक अधिकारी ने कहा कि अत: अब तक करीब 20.52 प्रतिशत मरीज ठीक हो चुके हैं। भारतीय आयुर्विज्ञान शोध परिषद (आईसीएमआर) ने कहा कि 24 अप्रैल को सुबह नौ बजे तक 23,502 नमूने संक्रमित पाए गए थे। स्वास्थ्य मंत्रालय के 23,452 मरीजों के आंकड़े में 77 विदेशी नागरिक भी शामिल हैं। मंत्रालय के आंकड़ों में कहा गया कि गुरुवार की शाम से कुल 37 लोगों की मौत इस बीमारी से हुई है। इनमें से 14 मरीजों की जान महाराष्ट्र में, नौ की गुजरात में, तीन की उत्तर प्रदेश में, आंध्र प्रदेश, दिल्ली, मध्य प्रदेश, तमिलनाडु और तेलंगाना में दो-दो और कर्नाटक में एक मरीज की जान गई है। अब तक हुई कुल 723 मौत में से महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा 283 लोगों की जान गई है। उसके बाद गुजरात में 112, मध्य प्रदेश में 83, दिल्ली में 50, आंध्र प्रदेश में 29, राजस्थान में 27 और तेलंगाना में 26 लोगों की मौत हुई है। उत्तर प्रदेश में मरने वालों की संख्या 24 तक पहुंच गई है जबकि तमिलनाडु में 20 और कर्नाटक में 18 लोग इस बीमारी से जान गंवा चुके हैं। मंत्रालय के मुताबिक, पंजाब में 16 लोगों की मौत इस बीमारी से हुई है जबकि पश्चिम बंगाल में 15 जान गई हैं। कोविड-19 से जम्मू-कश्मीर में पांच, केरल, झारखंड और हरियाणा में तीन-तीन मौत हुई हैं। मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक, बिहार में दो लोगों की मौत हुई जबकि मेघालय, हिमाचल प्रदेश, ओडिशा और असम में एक-एक व्यक्ति की जान इस बीमारी से गई। हालांकि विभिन्न राज्यों में दर्ज किये गए आंकड़ों के हिसाब से तालिका के मुताबिक, शुक्रवार तक कुल 23,577 संक्रमण के मामले सामने आए जबकि 743 लोगों की इस बीमारी से जान जा चुकी है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय और राज्यों द्वारा घोषित मौत के आंकड़ों के एक जैसे न होने की वजह अधिकारियों के मुताबिक हर राज्य के मामलों के आकलन में होने वाली प्रक्रियागत देरी है। मंत्रालय के शाम को अद्यतन किये गए आंकड़े के मुताबिक देश में सबसे ज्यादा संक्रमण के मामले महाराष्ट्र से आए हैं जहां संक्रमित लोगों की कुल संख्या 6,430 है इसके बाद गुजरात में 2,624, दिल्ली में 2,376, राजस्थान में 1,964, मध्य प्रदेश में 1,852 और तमिलनाडु में 1,683 मामले सामने आए हैं। उत्तर प्रदेश में कोविड-19 के मरीजों की संख्या बढ़कर 1,604 हो गई है जबकि तेलंगाना में 984 तो आंध्र प्रदेश में 955 मरीज मिले हैं। पश्चिम बंगाल में संक्रमण के 514 मामले सामने आए हैं तो कर्नाटक में इनकी संख्या 463 है, केरल में 448 और जम्मू कश्मीर में 427 मामले मिले हैं। पंजाब में 277 तो हरियाणा में 272 कोविड-19 के मामले सामने आए हैं। बिहार में कोरोना वायरस के 176 मामले आए हैं जबकि ओडिशा में 90 लोग संक्रमित मिले हैं। झारखंड में 55 और उत्तराखंड में संक्रमण के 47 मामले सामने आए हैं। हिमाचल प्रदेश में अब तक 40 मरीज मिले हैं जबकि छत्तीसगढ़ और असम में 36-36 संक्रमित मरीज मिले हैं। मंत्रालय के मुताबिक, चंडीगढ़ में 27, अंडमान-निकोबार द्वीप समूह में 22 और लद्दाख में 18 मामले सामने आए हैं। मेघालय में कोविड-19 के 12 मामले मिले हैं जबकि गोवा और पुडुचेरी में सात-सात लोगों में इसकी पुष्टि हुई है। मणिपुर और त्रिपुरा में दो-दो मामले मिले हैं जबकि मिजोरम और अरुणाचल प्रदेश में एक-एक व्यक्ति में संक्रमण मिला है। मंत्रालय ने अपनी वेबसाइट पर कहा, “हमारे आंकड़े आईसीएमआर के साथ सामंजस्य स्थापित कर रहे हैं।”


Popular posts from this blog

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन

भारत विदेश नीति के कारण वैश्विक शक्ति बनेगा।

मंत्र की उपयोगिता जांचें साधना से पहले