इरफान खान ने कहा था, अम्मा मुझे लेने आई हैं

actor irrfan khan died: मां थी तो दुआएं साथ थी ...


नई दिल्ली
                 
बॉलीवुड से लेकर हॉलीवुड तक अपनी एक्टिंग का लोहा मनवा चुके इरफान खान ने बुधवार को मुंबई के कोकिलाबेन अस्पताल में अंतिम सांस ली। इरफान को कोलन इंफेक्शन की वजह से भर्ती कराया गया था, जहां वह आईसीयू में थे, मगर जिंदगी और मौत की लंबी लड़ाई में इरफान खान हार गए। बता दें कि हाल ही में इरफान की मां का निधन हुआ था। लॉकडाउन की वजह से इरफान अपनी मां के अंतिम संस्कार में शामिल नहीं हो पाए थे।


इरफान अपनी मां से बहुत प्यार करते थे और यही वजह है कि आखिरी वक्त में उन्होंने अपनी मां का ही नाम लिया। रिपोर्ट्स के मुताबिक, बुधवार सुबह जब वह हॉस्पिटल में जिंदगी से लड़ रहे थे तब इरफान ने अपनी पत्नी सुतापा से कहा कि उनसे मिलने मां आई हैं। इरफान ने कहा, देखो, वह मेरे साथ बैठी हैं, अम्मा मुझे लेने आई हैं।


इरफान की ये बात सुनकर उनकी पत्नी रोने लगीं। बस इन आखिरी शब्दों के बाद इरफान इस दुनिया को छोड़कर चले गए। 


बता दें कि फिल्ममेकर शूजीत सरकार ने इरफान के निधन की जानकारी ट्वीट कर दी। उन्होंने ट्वीट किया, 'मेरे प्रिय मित्र इरफान, आप लड़े, लड़े और लड़े। मुझे आप पर हमेशा गर्व रहेगा.. हम फिर से मिलेंगे। शांति और ओम शांति। इरफान खान को सलाम।'


इरफान के निधन के बाद उनके परिवार की तरफ से एक स्टेटमेंट सामने आया है। जिसमें इरफान के निधन की जानकारी देते हुए उनके बारे में कुछ लाइन्स लिखी हैं जो इस प्रकार है। 'मैं सरेंडर कर चुका हूं। ये इरफान खान के शब्द थे जब उन्होंने 2018 में कैंसर के खिलाफ अपनी लड़ाई पर बात की थी। बहुत बुरा लग रहा है कि आज हमें उनके निधन की खबर देनी पड़ रही है। इरफान बहुत ही स्ट्रॉंग थे, वह आखिर तक अपनी बीमारी से खूब लड़े। जो भी उनसे मिलता, सभी उन्हें देखकर प्रेरित होते थे। भगवान उनकी आत्मा को शांति दें।' 


Popular posts from this blog

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन

भारत विदेश नीति के कारण वैश्विक शक्ति बनेगा।

मंत्र की उपयोगिता जांचें साधना से पहले