कानपुर के सम्बन्धित कोटेदारो के माध्यम से शुक्ला गंज में खाद्यान होम डिलीवरी की व्यवस्था कराये जाने पर विचार


उन्नाव


जिलाधिकारी श्री रवीन्द्र कुमार एवं पुलिस अधीक्षक श्री विक्रान्त वीर ने लाॅकडाउन की हकीकत परखने के उद्देश्य से आज शुक्ला गंज-कानपुर की सीमा पर तैनात सुरक्षा कर्मियों को निर्देश दियेे कि अनावश्यक आवाजाही पर शक्ति से नियमों का पालन किया जाये। कोई भी बहारी व्यक्ति को प्रवेश न दिया जाये। कोतवाल गंगा घाट ने बताया कि काॅफी सख्या में दूधिया कानपुर दूध लेकर आते-जाते है। दूधियों का संक्रमण से बचाव हेतु सीमा पर मेडिकल टीम से जांच कराकर आने जाने दिया जाये। जिस पर जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्साधिकारी को जांच करने के लिये एक चिकित्सीय टीम लगाये जाने के निर्देश दिये। पोनीरोड झण्डा चैराहा के पास निवास करने वाली श्रीमती नीरजा सिंह के बारे में बताया गया इस महिला के पास खाने पीने की व्यवस्था नही है जिस पर जिलाधिकारी ने राशन किट स्वयं उनके घर पर जाकर उपलब्ध कराया।
जिलाधिकारी को बताया गया शुक्ला गंज में ऐसे हजारो परिवार किराये पर रहते है और राशन कार्ड कानपुर में बना हुआ है। जिनके मुखिया कानपुर में प्राइवेट नौकरी करते है उनको राशन न उपलब्ध होने के कारण उनको भरण-पोषण की काॅफी समस्या है। इस समस्या को गम्भीरता से लेते हुये अधिशाषी अधिकारी नगर पालिका गंगा घाट को निर्देश दिये की ऐसे लोगो की सूची तैयार की जाये ताकि जिला प्रशासन कानपुर से वार्ताकर कानपुर के सम्बन्धित कोटेदारो के माध्यम से शुक्ला गंज में खाद्यान होम डिलीवरी की व्यवस्था कराई जा सके।
जिलाधिकारी कोरोना के कारण बाहर से आये व्यक्तियों हेतु माॅ वैष्णों गेस्ट हाउस मरहला चैराहा गंगा घाट उन्नाव में बनाये गये अस्थाई स्क्रीनिंग कैम्प/आश्रय स्थल का निरीक्षण किया। बताया गया कि इस अस्थाई स्क्रीनिंग कैम्प/आश्रय स्थल में लगभग तीस व्यक्तियों के ठैहरने की व्यवस्था की गयी है। उन्होंने बताया कि लाॅकडाउन के दौरान आम जनमानस को किसी प्रकार की परेशानी न हो इस हेतु सम्बन्धित अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश जारी किये जा चुके है जिसका अनुपालन कितना हुआ है। इसकी हाकीकत जानने के लिये वरिष्ठ अधिकारियों से आकस्मिक निरीक्षण समय-समय पर कराये जा रहे हैै।


बताया गया इस महिला के पास खाने पीने की व्यवस्था नही है जिस पर जिलाधिकारी ने राशन किट स्वयं उनके घर पर जाकर उपलब्ध कराया।
जिलाधिकारी को बताया गया शुक्ला गंज में ऐसे हजारो परिवार किराये पर रहते है और राशन कार्ड कानपुर में बना हुआ है। जिनके मुखिया कानपुर में प्राइवेट नौकरी करते है उनको राशन न उपलब्ध होने के कारण उनको भरण-पोषण की काॅफी समस्या है। इस समस्या को गम्भीरता से लेते हुये अधिशाषी अधिकारी नगर पालिका गंगा घाट को निर्देश दिये की ऐसे लोगो की सूची तैयार की जाये ताकि जिला प्रशासन कानपुर से वार्ताकर कानपुर के सम्बन्धित कोटेदारो के माध्यम से शुक्ला गंज में खाद्यान होम डिलीवरी की व्यवस्था कराई जा सके।
जिलाधिकारी कोरोना के कारण बाहर से आये व्यक्तियों हेतु माॅ वैष्णों गेस्ट हाउस मरहला चैराहा गंगा घाट उन्नाव में बनाये गये अस्थाई स्क्रीनिंग कैम्प/आश्रय स्थल का निरीक्षण किया। बताया गया कि इस अस्थाई स्क्रीनिंग कैम्प/आश्रय स्थल में लगभग तीस व्यक्तियों के ठैहरने की व्यवस्था की गयी है। उन्होंने बताया कि लाॅकडाउन के दौरान आम जनमानस को किसी प्रकार की परेशानी न हो इस हेतु सम्बन्धित अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश जारी किये जा चुके है जिसका अनुपालन कितना हुआ है। इसकी हाकीकत जानने के लिये वरिष्ठ अधिकारियों से आकस्मिक निरीक्षण समय-समय पर कराये जा रहे हैै।


Popular posts from this blog

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन

मंत्र की उपयोगिता जांचें साधना से पहले

’’पवन गुरू, पानी पिता, माता धरति महत’’ को अपने जीवन का अंग बनायें : स्वामी चिदानन्द सरस्वती