जिलाधिकारी ने दिये जन्माष्टमी, स्वतन्त्रता दिवस व मोहर्रम के पर्व को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन के साथ मनाए जाने के निर्देश

उन्नाव
जिलाधिकारी श्री रविंद्र कुमार व पुलिस अधीक्षक श्री रोहन पी कनय ने आज विकास भवन सभागार में धर्मगुरुओं, धर्माचार्य, गणमान्य व्यक्तियों व संबंधित अधिकारियों के साथ स्वतंत्रता दिवस एवं श्री कृष्ण जन्माष्टमी व मोहर्रम के त्यौहार को सकुशल संपन्न कराए जाने के संबंध में आवश्यक बैठक की। जिन्हें लेकर जनपद में शांति व्यवस्था कायम रहनी चाहिए।
बैठक में जिलाधिकारी ने कोविड-19 वैश्विक महामारी को दृष्टिगत रखते हुए विशेष सोशल डिस्टेंसिंग को ध्यान में रखते हुए पर्व आयोजित किए जाने के सम्बन्ध में दिशा निर्देश देते हुये कहा आगामी 12 अगस्त 2020 को श्रीकृष्ण जन्माष्टमी, 15 अगस्त 2020 को स्वतन्त्रता दिवस के पर्व पर किसी भी सार्वजनिक स्थान पर कोई भी झांकी नहीं निकाली जाएगी न ही कोई समारोह कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा। उन्होंने कहा सभी अपने घरों में अपने रीति रिवाज के अनुसार घरों में ही पूजा अर्चना करेंगे। उन्होंने कहा इस समय हम सभी को सावधानी बरतने की जरूरत है, सामाजिक दूरी का पालन अवश्य करें व मास्क अवश्य लगायें। जिलाधिकारी ने कहा किसी स्थानीय संस्थान पर कोई कार्यक्रम करता पाया जाता है तो वह संस्थान ही जिम्मेदार होगा। उसके प्रति कानूनी कार्यवाही भी की जाएगी। जिलाधिकारी ने कहा जनपद में हर नागरिक को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना है और कोरोना से बचना है इसलिए अनावश्यक रूप से कोई भी अपने घरों से न निकलंे अपने घरों में ही रहकर पूजा अर्चना करें।
जिलाधिकारी ने कहा जिस प्रकार आप सभी ने पूर्व के त्योहारों में  प्रशासन का सहयोग किया है कोविड-19 के दृष्टिगत  आगामी त्यौहार श्रीकृष्ण जन्माष्टमी व 15 अगस्त स्वतंत्रता दिवस को अच्छे से संपन्न कराएं सकुशल संपन्न कराने के लिए अपना सहयोग दें ।
जिलाधिकारी ने कहा स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर कोई भी झांकी नहीं निकाली जाएगी न ही कार्यक्रम आयोजित कराए जाएंगे। सभी कार्यक्रम स्थगित  रहेंगे। झंडारोहण अपने निर्धारित समय पर ही बच्चोें को आॅनलाइन पोर्टल के माध्यम से कनेक्ट कर किया जाएगा। सोशल डिस्टेंसिंग को ही ध्यान में रखते हुए वृक्षारोपण का कार्यक्रम के निर्देश दिए। उन्होंने कहा स्वास्थ्य परीक्षण के उपरांत ही चंद्रशेखर आजाद की स्मारक पर माल्यार्पण किया जाएगा।
उन्होंने अधिशासी अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि साफ-सफाई की व्यवस्था चाक-चैबंद रहनी चाहिए जगह-जगह चूना भी पड़ा होना चाहिए। त्योहारों के प्रति कोई भी लापरवाही न की जाए। 
जिलाधिकारी ने कहा पानी विद्युत सफाई त्योहार के अवसर पर विशेष होते हैं इसलिए इनमे कोई भी लापरवाही ना  हो।
पुलिस अधीक्षक श्री रोहन पी कनय ने कहा 29 को मोहर्रम के अवसर पर इस बार जनपद में ताजिया भी नहीं निकाले जाएंगे। उन्होंने सोशल डिस्टेंसिंग व मास्क का पालन अवश्य करने के निर्देश दिये। उन्होंने दुकानदारों के लिए व्यापारियों के लिए भी निर्देश दिए कि अपनी दुकानों के सामने गोले अवश्य बनवायें जिससे की सामाजिक दूरी का पालन हो सके। उन्होंने समस्त क्षेत्राधिकारियों को यह भी निर्देश दिये कि समस्त सम्बन्धितों को मोहर्रम के अवसर हेतु अवगत करा दें की कहीं पर  भी मेला आदि नहीं लगाये जाएंगे। श्री कृष्ण जन्माष्टमी, स्वतंत्रता दिवस व मोहर्रम का त्योहार  कोविड-19 वैश्विक महामारी को दृष्टिगत रखते हुए मनाया जाएगा। उन्होंने कहा किसी भी सार्वजनिक स्थान पर  किसी भी तरीके की झांकी आदि नहीं निकाली जाएंगी। उन्होंने कहा त्योहारों को भाईचारे की भावना से मनाएं त्योहार के अवसर पर सुरक्षा व्यवस्था चाक-चैबंद रहेगी जो खुराफाती करेगा उसे किसी भी हाल में बख्शा नहीं जाएगा। उससे निपटने के लिए उन्नाव पुलिस तैयार है। पुलिस अपनी ड्यूटी मुस्तैदी के साथ करेगी उन्होंने कहा असामाजिक तत्वों पर नजर रखी जाएगी अगर कोई किसी भी तरह की अफवाह फैलाता है पुराने वीडियो वायरल करता है या बदमाशी  दिखाता है तो उनके खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।
नगर मजिस्ट्रेट श्री चंदन पटेल ने समस्त उप जिलाधिकारियों व  क्षेत्राधिकारियांे को निर्देशित करते हुये कहा कि जिलाधिकारी महोदय व पुलिस अधीक्षक महोदय द्वारा बैठक में दिये गये निर्देशों का शत प्रतिशत पालन कराना सुनिश्चित करें जिससें की कोविड-19 वैश्विक महामारी से बचते हुये आगामी त्योहारों को सकुशल व शांति पूर्वक सम्पन्न कराया जा सके।
इस अवसर पर नगर मजिस्ट्रेट, श्री चंदन पटेल, समस्त उप जिलाधिकारी, समस्त क्षेत्राधिकारी, सहित समस्त सम्बन्धित उपस्थित रहे।


 


Popular posts from this blog

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन

मंत्र की उपयोगिता जांचें साधना से पहले

’’पवन गुरू, पानी पिता, माता धरति महत’’ को अपने जीवन का अंग बनायें : स्वामी चिदानन्द सरस्वती